फर्जी टोल स्लिप दिखा पार कर रहा था टोल प्लाजा, टैक्सी चालक गिरफ्तार

गुरुग्राम : उद्योग विहार थाना पुलिस ने टोल प्लाजा पर फर्जी पर्ची दिखाकर गाड़ी पार करने वाले आरोपी टैक्सी चालक को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी टोल प्लाजा पर लगने वाले टोल शुल्क 100 रुपये बचाने के लिए आरोपी अपने साथी से 10 रुपये में बनवाता था। आरोपी के कब्जे से एक फर्जी पर्ची भी बरामद की गई।
पुलिस थाना उद्योग विहार में अमोल सूर्यराव सीनियर मैनेजर एमईपी इंफ्रास्ट्रक्चर डवलपर्स लिमिटेड कंपनी ने शिकायत दी थी कि 26 नवंबर को उसकी ड्यूटी रजोकरी टोल पर थी। रात के 9.30 बजे एक इनोवा कार रजोकरी एमसडी टोल पर आई। टोल पर काम करने वाले कर्मचारी ने जब गाड़ी से टोल की मांग की तो उस गाड़ी के ड्राईवर ने कहा की उसने अभी टोल बूथ पर भुगतान कर टोल की पर्ची ली और उस पर्ची को टोलकर्मी को दिखाया, जिस पर्ची को देखकर टोल कर्मी को उस पर्ची के फर्जी होने का संदेह हुआ, टोल कर्मी उस पर्ची को लेकर इसके पास आया और कहा की सर यह ड्राईवर जो पर्ची दिखा रहा हैं यह पर्ची फर्जी लग रही है। तब इसने उस पर्ची को देखा और फिर रजोकरी टोल के बूथ से एक कंप्यूटर की पर्ची प्रिंट कर मंगवाई और दोनो पर्ची का मिलान करने पर पाया कि ड्राईवर द्वारा दी गयी पर्ची फर्जी है। इस मामले में पुलिस ने शुक्रवार को उद्योग विहार थानाक्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी की पहचान तजेंद्र सिंह पुत्र जगीर सिंह निवासी गांव रायपुर मुन्ने, जिला रोपड़, पंजाब के रूप में हुई है। इस मामले में सम्मलित आरोपी के अन्य साथी के बारे में आरोपी से गहनता से पूछताछ की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *