बिहार चुनाव : पहले चरण का मतदान जारी, दोपहर 3 बजे तक 46.29 प्रतिशत वोटिंग

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण के तहत प्रदेश के 16 जिलों के 71 विधानसभा क्षेत्रों में कड़ी निगरानी और पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के साथ-साथ कोविड-19 को लेकर चुनाव आयोग के निर्देशों का पालन करते हुए बुधवार को मतदान जारी है। जानकारी के अनुसार दोपहर 3 बजे तक 46.29 प्रतिशत वोटिंग हो चुकी है। इससे पहले दोपहर एक बजे तक 33.10 प्रतिशत मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर चुके थे।
आज के मतदान के दौरान 2 करोड़ 14 लाख 84 हजार 787 मतदाता जिनमें 78791 सर्विस मतदाता शामिल हैं, अपने अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। सभी मतदान केंद्रों पर अर्द्धसैनिक बलों के जवानों की तैनाती किए जाने के साथ कुल 31,380 मतदान केन्द्रों के लिए 31,380-31,380 सेट इवीएम एवं वीवीपैट का प्रबंध किया गया है। आज जिन विधानसभा क्षेत्रों में मतदान हो रहा है उनमें से 35 संवेदनशील अथवा अति संवेदनशील हैं जहां मतदान का समय सुबह 7 बजे से शाम 5 एवं 4 बजे निर्धारित किया गया जबकि बाकी अन्य विधानसभा क्षेत्रों में मतदान का समय शाम 6 बजे तक जारी रहेगा। संजय ने बताया कि प्रथम चरण के 71 विधानसभा सीटों में क्षेत्रफल के हिसाब से सबसे बड़ा विधान सभा क्षेत्र चैनपुर है, मतदातावार सबसे बड़ा विधानसभा क्षेत्र हिलसा है तथा मतदातावार ही सबसे छोटा क्षेत्र बरबीघा है। इसी तरह प्रथम चरण में गया टाउन विधानसभा क्षेत्र से इस बार सबसे ज्यादा प्रत्याशी (27) तथा कटोरिया से सबसे कम प्रत्याशी (5) मैदान में हैं।
अपर पुलिस महानिदेशक (मुख्यालय) जितेंद्र कुमार ने बताया कि एहतियात के तौर पर, चुनाव ड्यूटी पर तैनात सभी सुरक्षाकर्मियों को कोविड-19 किट दिया गया है जिसमें मास्क, दस्ताने, फेस शील्ड और सेनिटाइजर शामिल हैं। पहले चरण के मतदान में राज्य के अधिकांश नक्सल प्रभावित इलाके आते हैं। उन्होंने कहा कि नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के लिए विशेष सुरक्षा व्यवस्था की गई है। प्रशासन हवाई निगरानी भी करेगा और इस उद्देश्य के लिए एक हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया जाएगा।
बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण में कुल 1,066 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं जिनमें 114 महिला प्रत्याशी शामिल हैं। प्रमुख राजनीतिक दलों में, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू 35 सीटों पर चुनाव लड़ रही है, उसके बाद सहयोगी भाजपा (29) है, जबकि विपक्षी राजद ने 42 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं और 20 विधानसभा क्षेत्रों में उसके गठबंधन सहयोगी कांग्रेस मैदान में है। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबबंधन (राजग) में शामिल जदयू से नाता तोड़कर लोक जनशक्ति पार्टी के प्रमुख और दिवंगत केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के पुत्र चिराग पासवान इन 71 सीटों में से 41 सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं। वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी में आस्था व्यक्त करते हैं पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ मुखर हैं। प्रमुख उम्मीदवारों में राष्ट्रमंडल खेल में निशानेबाजी में स्वर्ण पदक विजेता श्रेयसी सिंह शामिल हैं, जो 27 साल की उम्र में जमुई से भाजपा उम्मीदवार के रूप में अपना भाग्य आजमा रही हैं। श्रेयसी सिंह को राजद के विजय प्रकाश यादव के खिलाफ खड़ा किया गया है, जो मौजूदा विधायक हैं, जिनके बड़े भाई जयप्रकाश नारायण यादव पूर्व केंद्रीय मंत्री और पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद के करीबी सहयोगी हैं। राज्य मंत्रिमंडल में शामिल प्रेम कुमार (गया टाउन), विजय कुमार सिन्हा (लखीसराय), राम नारायण मंडल (बांका), कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा (जहानाबाद), जयकुमार सिंह (दिनारा) और संतोष कुमार निराला (राजपुर) से पहले चरण के चुनाव में अपना भाग्य आजमा रहे हैं। इनमें से वर्मा, सिंह और निराला जदयू के हैं, जबकि शेष भाजपा के हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *