नूह जिला में नहीं चलेंगे ओवर लोडिग वाहन !

नूह : जिला उपायुक्त धीरेंद्र खड़गटा ने बुधवार को लघु सचिवालय कांफ्रेंस हाल में ओवर लोडिग वाहनों के बारे में बैठक ली। बैठक में उपायुक्त ने कहा कि जिले में किसी भी ओवर लोडिग वाहन को नहीं चलने दिया जाएगा। अगर कोई ओवर लोडिग वाहन लेकर चलता है तो वाहन मालिक के खिलाफ के सख्त कार्रवाई व एफआइआर भी दर्ज की जाएगी।
उपायुक्त ने कहा कि ओवर लोडिग वाहनों के कारण सड़क दुर्घटनाएं होने की संभावना बनी रहती हैं। मार्ग पर क्षमता से अधिक भार वाले वाहनों के चलने के कारण सड़कें क्षतिग्रस्त भी हो जाती हैं। ओवर लोडिग वाहनों पर शिकंजा कसने के लिए चालान करने के अतिरिक्त भारी मात्रा में जुर्माना किया जाएगा। इन वाहनों के खिलाफ प्राथमिक सूचना रिपोर्ट भी दर्ज की जाएगी। उन्होंने एसडीएम फिरोजपुर-झिरका को निर्देश दिए कि वो राजस्थान से आने वाले पत्थर की चेकिग करें। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि अपने नाकों पर सीसीटीवी कैमरा भी लगवाना सुनिश्चित करें। इस विषय को गंभीरता से लेने की जरूरत है। यदि विभाग का कोई कर्मचारी अथवा अधिकारी मिलीभगत करता पाया गया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई के लिए उच्च अधिकारियों को लिख दिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि खनन विभाग के अधिकारी अपने अधीनस्थ अधिकारियों को नियमित रूप से क्रमानुसार तैनात करें। जहां पर अवैध खनन की संभावना रहती है। उन्होंने मौके पर उपस्थित डीएसपी को भी निर्देश दिए कि वे मदद के लिए पुलिस कर्मचारियों को भी तैनात करें। एसडीएम को निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि ओवर लोडिग को लेकर समय-समय पर चेकिग की जाए और जहां पर ऐसी व्यवस्था मिलती है तो चालान किए जाएं। पुलिस अधीक्षक नरेंद्र बिजारनिया ने कहा कि जिले में चल रहे क्रशर जोन पर लगातार अवैध रूप से पत्थर आ रहा है। आने वाले अवैध पत्थर की सूचना दें और उसे तुरंत बंद करना सुनिश्चित करें अन्यथा क्रशर जोन मालिक के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त डा. मुनीष नागपाल, एसडीएम फिरोजपुर-झिरका रिगन कुमार, एसडीएम पुन्हाना कुलवीर ढाका, सचिव आरटीए गौरव अंतिल, जीएम रोडवेज प्रदीप अहलावत, सहित जिले के सभी संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *