निकिता हत्याकांड : तौसीफ को रिमांड पर लेकर पूछताछ शुरू

फरीदाबाद: निकिता हत्याकांड में सोमवार को हुई सुनवाई के दौरान अदालत ने तौसीफ को दो साल पुराने अपहरण केस की दोबारा जांच के लिए एक दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। पुलिस ने कोर्ट से इसके लिए तीन दिन के रिमांड की मांग की थी। इसके अलावा अदालत के निर्देश पर सभी आरोपियों को आरोप पत्र की कापी सौंप दी गई है। सुनवाई के बाद रेहान और अजरुदीन को वापस जेल भेज दिया गया, जबकि तौसीफ को एसआईटी अपने साथ ले गई।
निकिता हत्या मामले में सोमवार को फास्ट ट्रैक कोर्ट में न्यायाधीश सरताज बासवाना की अदालत में तीनों आरोपियों को पेश किया गया। यहां तीनों को आरोप पत्र की कापी दी गई। इसमें उनके ऊपर पुलिस द्वारा दर्ज की गई रिपोर्ट और जांच के बाद लगाए गए आरोपों का ब्योरा था। तौसीफ को हथियार बरामद कराने वाले अजरुदीन को लेकर दोनों पक्ष के अधिवक्ताओं में जमकर बहस हुई। बचाव पक्ष के अधिवक्ता अनीस खान का कहना था कि अजरुदीन पर आरोप नहीं बनते। उसे पूरे मामले में जबरदस्ती फंसाया जा रहा है। इस पर अभियोजन पक्ष के अधिवक्ता व निकिता के मामा एदल सिंह रावत ने कहा कि आरोपी पर लगाए गए सभी आरोप सही हैं। आरोपी इस पूरे षड्यंत्र में शामिल रहा है। न्यायाधीश ने बचाव पक्ष की बातों को दरकिनार करते हुए अजरु को आरोप पत्र थमा दिया।
बचाव पक्ष ने कुछ मामलों में दोबारा जांच अर्जी पिछली सुनवाई के दौरान लगाई थी। न्यायाधीश ने उस अर्जी को सोमवार को निरस्त कर दिया। इस मामले में अब अगली सुनवाई के लिए कोर्ट ने अब एक और दो दिसंबर की तारीख तय की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *