फ्लैट बेचने के नाम पर बिल्डर ने लेफ्टिनेंट कमांडर दंपती को लगाया 94 लाख का चूना

गुरुग्राम: फ्लैट बेचने के नाम पर एक बिल्डर ने लेफ्टिनेंट कमांडर दंपती से 94 लाख रुपये की धोखाधड़ी की। बिल्डर की ओर से दिए गए आय के चेक भी बाउंस हो गए। केस हरेरा में दायर करने के बाद खुलासा हुआ कि बिल्डर द्वारा बेचा गया फ्लैट पहले ही किसी महिला को बेचा जा चुका है। सेक्टर-50 थाना पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पीड़ित दंपती नेवी में तैनात है।
जलवायु टावर निवासी लेफ्टिनेंट कमांडर दीप्ती चौहान ने बताया कि उन्होंने निवेश के लिए नाइनेक्स बिल्डर के सेक्टर-76 में बनाई जा रही परियोजना स्टाइल नाइनेक्स सिटी में फ्लैट खरीदा था। बिल्डर कंपनी के निदेशक राम मेहर गर्ग, संदीप गर्ग, वीना गर्ग ने उन्हें निवेश पर अच्छी आय होने व फ्लैट वापस खरीदने की गारंटी दी थी। इस कारण उन्होंने साल 2017 में बिल्डर के साथ समझौता कर लिया। बिल्डर को अलग-अलग समय पर 94 लाख रुपये का भुगतान किया गया। इस दौरान बिल्डर ने उन्हें मासिक आय के रूप में 36 पोस्ट डेटेड चेक दिए। कुछ समय तक तो ठीक था, लेकिन बाद में उन्हें दिए गए चेक बाउंस होने शुरू हो गए। इसके बाद उन्होंने बिल्डर से संपर्क किया, लेकिन बिल्डर ने कोई जवाब नहीं दिया। लिहाजा उन्होंने हरेरा में केस दाखिल किया। यहां उन्हें पता लगा कि जो फ्लैट बिल्डर ने उन्हें साल 2017 में बेचा है वह फ्लैट 2014 में वह पहले ही मीना देवी व निशा गुप्ता को बेच चुका है। इस मामले की उन्होंने पुलिस को शिकायत दी। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *