ऑनर किलिंग : दलित लड़की से प्रेमविवाह किया तो मिली मौत

गुरुग्राम: दलित लड़की से प्रेम विवाह करने वाले युवक की झूठी शान के लिए हत्या कर दी गई। करीब पांच माह पहले विवाह करने वाला युवक पत्नी को लेकर सोमवार शाम बादशाहपुर स्थित अपनी ससुराल आया था। रात में मोहल्ले के पांच युवकों ने उसे घेर कर बुरी तरह से पीटा। हाथ-पैर तोड़ने के साथ-साथ पैरों को बोरी सिलने वाले सुआ से छलनी कर दिया गया था। मरणासन्न हालत में युवक को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बुधवार रात युवक की मौत हो गई।
पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर बृहस्पतिवार को पांच आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। एक आरोपित कोरोना पाजिटिव निकला, उसे बहरामपुर में बने आइसोलेशन सेंटर पर रखा गया है। मूल रूप से राजस्थान के अलवर जिला के गांव लक्ष्मणगढ़ निवासी आकाश राजपूत अपने भाई राहुल के साथ भोंडसी में रहता था।
आकाश ने पांच माह पहले बादशाहपुर में रहने वाली अनुसूचित जाति की लड़की से प्रेम विवाह किया था। सोमवार की शाम आकाश पत्नी के साथ ससुराल आया और उसे छोड़कर भोंडसी जा रहा था। तभी दूसरे मोहल्ले में रहने वाले रवि, अजय, लालू, पवन व मोहित ने उसको पकड़ बुरी तरह से पीटा था जिसके चलते वह बेहोश हो गया था। बड़े भाई राहुल को सूचना मिली तो वह आकाश को लेकर जिला नागरिक अस्पताल पहुंचा। वहां डाक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद उसकी गंभीर हालत को देखते हुए दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल रेफर कर दिया। खून अधिक बहने से आकाश की मौत हो गई।
डीसीपी क्राइम राजीव देसवाल ने बताया आकाश के साथ आरोपितों की पहले से रंजिश चली आ रही थी। आरोपित रवि का भाई हत्या के मामले में है जेल में बंद हत्या आरोपित रवि का भाई नरेंद्र बादशाहपुर के आनंद हत्याकांड में पहले ही जेल में बंद है। अजय नरेंद्र व रवि का साला है, जबकि पवन रवि का भांजा है। लालू और मोहित बादशाहपुर के ही रहने वाले हैं। आरोपित अजय पर भी पहले मामले दर्ज है। हत्या के प्रयास में वह पहले भी जेल जा चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *