आतंकी हमले में शहीद दीपक को दी नम आंखों से अंतिम विदाई

रेवाड़ी : कुलगाम क्षेत्र में बुधवार को आतंकियों द्वारा आईईडी से किए हमले में शहीद हुए गांव जुड्डी निवासी जाबांज सैनिक शहीद दीपक कुमार यादव की शुक्रवार को सैनिक सम्मान के साथ अंत्येष्टि कर दी गई। प्रदेश के मंत्री डा. बनवारी लाल अंत्येष्टी में शामिल हुए और शहीद को श्रद्धांजलि दी। 83 आर्म्ड सेना के जवानों और हरियाणा पुलिस की टुकड़ी ने शस्त्र झुकाकर शहीद को सलामी दी। शहीद का पार्थिव शरीर लेकर सेना का वाहन शुक्रवार को जैसे ही गांव पहुंचा तो हर कोई अपने सपूत को देखने उमड़ पड़ा। हर किसी की आंखें नम हो गई और जब तक सूरज चांद रहेगा दीपक तेरा नाम रहेगा, भारत माता की जय के नारों का उद्घोष किया।
गौरतलब है कि गांव जुड्डी निवासी दीपक जून 2005 को 12 आर्म्ड रेजिमेंट में भर्ती हुए थे। वह कश्मीर में 24 आरआर बटालियन में तैनात थे। पार्थिव देह के साथ आए 12 आर्म्ड रेजिमेंट के कैप्टन मयंक सरदालिया ने बताया कि दीपक एक बहादुर जवान थे। बुधवार को कुलगाम में जब सुरक्षाबलों का दस्ता शम्सीपोरा इलाके में गश्त कर रहा था, तब घात लगाए बैठे आतंकवादियों द्वारा आईईडी से विस्फोट कर दिया गया। इसमें दीपक शहीद हो गए, जबकि अन्य तीन जवान घायल हो गए थे।
डा. बनवारी लाल ने कहा कि शहीद दीपक का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। उन्होंने शहीद के बेटे रोहण कुमार व परिजनों को हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत द्वारा प्रस्ताव पास किए जाने के बाद शहीद दीपक के नाम से खेल स्टेडियम का नामकरण कर दिया जाएगा।