अभी हरियाणा में नहीं थमा किसान आंदोलन, पानीपत बैरियर फिर से टोल फ्री, जुट रहे आंदोलनकारी

पानीपत : हरियाणा में किसान आंदोलन को लेकर एक बार फिर किसान एकजुट हो गए हैं। प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में फिर से किसान सड़कों पर उतर आए हैं। पानीपत में नेशनल हाईवे नंबर 1 और पानीपत-रोहतक हाईवे पर स्थित दोनों टोल प्लाजा फिर से टोल फ्री कर दिए गए हैं, वहीं राज्य के दूसरे हिस्सों में भी किसान धरनों पर वापस लौट रहे हैं।
गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में हुई हिंसा के बाद लगभग हर तरफ धरने समाप्ति की ओर बढ़ने लग गए थे। गुरुवार को उत्तर प्रदेश के किसान नेता राकेश टिकैत का एक वीडियो वायरल होने के बाद आंदोलनकारी फिर से वापस धरने पर लौटने के मूड में आ गए। पानीपत में दिल्ली-अमृतसर हाईवे पर बाबरपुर के पास स्थित टोल प्लाजा पर गुरुवार शाम साढ़े 4 बजे से वसूली शुरू हो गई थी, लेकिन शुक्रवार सुबह 11 बजकर 19 मिनट पर इसे फिर से टोल फ्री कर दिया गया। इसी तरह पानीपत-रोहतक हाईवे पर गांव डाहर में स्थित टोल प्लाजा पर कल साढ़े 10 बजे वसूली शुरू हो गई थी, पर शुक्रवार सुबह सवा 11 बजे यहां फिर से आंदोलनकारियों का कब्जा हो गया। इस बारे में सिख यूथ फेडरेशन के प्रधान मुख्तयार सिंह ने बताया कि बुधवार रात को थाना सिटी और सेक्टर-13/17 की पुलिस ने ऊपर से दबाव होने की बात कहकर धरना उठाने को कहा था। इस पर अमल भी करने की कोशिश की गई, लेकिन गुरुवार को राकेश टिकैत का वीडियो वायरल होने के बाद फिर से संगठन ने आंदोलन को मजबूत करने का फैसला लिया है।
पानीपत में किसानों के वाहनों के लिए 26 नवंबर से ही टोल फ्री था। इसके बाद किसानों ने 12 दिसंबर को एक दिन के लिए टोल फ्री कराए थे। फिर 25 दिसंबर से पानीपत के L&T और डाहर टोल प्लाजा को सभी वाहनों के लिए फ्री करा दिया गया।