गली में खेल रहे बच्चों पर गिरा लोहे का गेट, आठ वर्षीय बच्ची की मौत

सोहना (गुरुग्राम): यहां के वार्ड तेरह स्थित पीर कालोनी में एक प्लाट में बनी चहारदीवारी में लगे गेट के साथ दीवार गिरने से छह बच्चे दब गए। सिर में चोट लगने से आठ वर्षीय बच्ची की मौत हो गई। अन्य बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए। सभी को सोहना के नागरिक अस्पताल ले जाया गया। गंभीर हालत को देखते तीन बच्चों को गुरुग्राम के लिए रेफर किया गया, जबकि दो को नूंह के नल्हड़ मेडिकल कालेज स्थित अस्पताल में भर्ती कराया गया। घटना की सूचना पाकर मौके पर सोहना थाने की पुलिस टीम पहुंची पर किसी तरह की शिकायत पुलिस को नहीं दी गई।
एक खाली प्लाट के चारों ओर दस मीटर ऊंची दीवार बनाने के बाद बड़ा लोहे का गेट कई साल पहले लगाया गया था। गेट में ताला नहीं लगा होने के चलते बच्चे उसे खोलकर अक्सर झूलते रहते थे। बुधवार शाम करीब पांच बजे कालोनी में ही रहने वाली आठ साल की शिल्पा अपने छोटे भाई शिवम बहन मुस्कान तथा चचेरी बहन साधना तथा प्रिस व जितेंद्र के साथ गेट पर चढ़कर झूल रही थी। बच्चे कभी गेट को बंद करते कभी खोलते। तेज झटका लगने के चलते दीवार सहित गेट गिर पड़ा और उसमें सभी बच्चे दब गए।
सिर पर गेट गिरने से शिल्पा की मौके पर ही मौत हो गई। घायल बच्चों को सोहना के नागरिक अस्पताल में प्राथमिक इलाज किया गया। हाथ-पैर व शरीर के अन्य हिस्सों में गंभीर चोट देखते हुए सभी को दूसरे अस्पताल के लिए रेफर किया गया। प्रिस साधना तथा मुस्कान को गुरुग्राम के एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया। वहीं, जितेंद्र व शिवम को नल्हड़ मेडिकल कालेज में बने अस्पताल में भर्ती किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *