पुलिस ने चेन्नई से धर दबोचा पत्नीहन्ता

-पत्नी के चाल-चलन पर संदेह रखते हुए आरोपी पति हत्या करके हो गया था फरार
गुरुग्राम : दिनांक 10.11.2020 को पुलिस कंट्रोल रुम, गुरुग्राम में थाना सैक्टर-5, गुरुग्राम में एक सुचना छोटूराम चौक के पास सुखपाल के मकान में बन्द कमरे से बदबु आने के सम्बन्ध में प्राप्त हुई।
इस सूचना पर थाना सैक्टर-5, गुरुग्राम की पुलिस टीम बिना किसी देरी के घटनास्थल पर पहूंच गई, जहां पर मकान का मालिक सुखपाल ने बतलाया कि मकान के प्रथम तल पर बने कमरे से बदबु आ रही थी, तथा वहां एक महिला का शव पङा हुआ है। जिसके नजदीक जाकर देखा तो वह शव नैना सुनावर का था। युवती का गला घोटकर हत्या की हुई थी।
मकान के मालिक सुखपाल पुत्र कमल सिंह निवासी मकान नं.-1 गली नंबर-5 ए अशोक विहार एक्सटेन्शन – III सराय वाला रोड, गुरुग्राम ने एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि जिस कमरे में महिला का शव मिला है वह इसने मृतका के पति भारत थापा @ सागर थापा पुत्र धन कुमार थापा निवासी बीरपारा टी-एस्टेट नियर शिव मंदिर लंकापारा पी.एस. अलीपुर जिला न्यू जलपाईगुड़ी पश्चिम बंगाल को किराए पर दिया हुआ था। इस कमरे में वह व उसकी पत्नी नैना सुनावर रहते थे। यह उस कमरे के पास से गुजर रहा था तो इसने कमरे के अन्दर से बदबू आनी महसूस हुई तो इसने उस कमरे में रहने वाली युवती नैना सुनावर के पास कॉल कपुलिस मौका पर आ गई व इसके सामने ही पुलिस ने कमरे का दरवाजा खोला तो कमरें के अन्दर नैना सुनावर मृत अवस्था में मिली। जिसको देखने से प्रतीत हो रहा था कि उसकी रस्सी से गला घोटकर हत्या की गई है। उसका पति कई दिनों से नजर नही आ रहा था और कमरे के दरवाजे के बाहर ताला लगा होने के कारण ऐसा भी प्रतीत हो रहा था कि इस हत्या को अन्जाम मृतिका महिला के पति ने दिया है।
इस अभियोग में अपराध शाखा पालम विहार, गुरुग्राम की पुलिस टीम के तत्परता से कार्यवाही करते हुए अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से, पुलिस तकनीकी की सहायता से व अपनी समझबुझ से उक्त अभियोग में हत्या करने की वारदात को अन्जाम देने वाले आरोपी को दिनांक 12.11.2020 को चेन्नई से काबू करने में बङी सफलता हासिल की । आरोपी की पहचान भारत थापा उर्फ सागर थापा पुत्र धन कुमार थापा निवासी बीरपारा टी-एस्टेट नजदीक शिव मंदिर लंकापारा पी.एस. अलीपुर जिला न्यू जलपाईगुड़ी पश्चिम-बंगाल, उम्र 27 वर्ष के रुप में हुई।
आरोपी को ट्रान्जिट रिमाण्ड पर लेकर दिनांक 14.11.2020 को माननीय अदालत, गुरुग्राम के सम्मुख पेश करके 01 दिन के पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया गया। आरोपी ने पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान बतलाया कि उपरोक्त अभियोग में मृतिका इसकी पत्नी थी। इसे अपनी पत्नी के चाल-चलन पर संदेह था। जिसका संदेह रखते हुए इसने रस्सी से उसका गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। हत्या करने के बाद यह उसका मोबाईल फोन, जेवरात व नगदी लेकर और कमरे को ताला लगाकर वहां से भाग गया। किन्तु पुलिस ने इसे चेन्नई से काबू कर लिया। आरोपी के कब्जा से पुलिस टीम ने मृतिका के जेवरात, मृतिका का मोबाईल फोन व 10 हजार रुपयों की नगदी पुलिस टीम द्वारा बरामद किए गए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *