नवरात्र पर्व : बेरी स्थित मां भीमेश्वरी देवी मंदिर में मास्क लगाकर दर्शन, नहीं चढ़ेगा प्रसाद

-बेरी में स्वास्थ्य सुरक्षा के मद्देनजर नियमों की पालना करते हुए माता के दर्शन कर रहे हैं श्रद्धालु
-एसडीएम रविंद्र कुमार व एएसपी विक्रांत भूषण कर रहे हैं मोनिटरिंग
झज्जर : नवरात्र पर्व के अवसर पर बेरी स्थित मां भीमेश्वरी देवी मंदिर श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ प्रशासन की ओर से खोलते हुए निर्धारित नियमों की पालना सुनिश्चित की जा रही है। उपायुक्त जितेंद्र कुमार व पुलिस अधीक्षक हिमांशु गर्ग के मार्गदर्शन में बेरी एसडीएम रविंद्र कुमार व एएसपी विक्रांत भूषण श्रद्धालुओं को माता के दर्शन करने में कोई परेशानी न हो इसके लिए सजगता से मोनिटरिंग कर रहे हैं।
कोरोना वैश्विक महामारी से बचाव के मद्देनजर धार्मिक नगरी बेरी में इस बार नवरात्र पर्व के उपलक्ष्य में लगने वाला मेला स्थगित किया गया है। प्रशासन की ओर से कोरोना से बचाव की दिशा में कदम उठाते हुए मां भीमेश्वरी देवी की मंगला आरती का प्रसारण फेसबुक पेज मां भीमेश्वरी देवी मंदिर बेरीवाली लाइव से किया जा रहा है। साथ ही मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं को बिना प्रसाद के ही मास्क लगाकर, उचित शारीरिक दूरी से मंदिर में माता के दर्शन करने के लिए ही प्रवेश करवाया जा रहा है। एसडीएम रविंद्र कुमार ने कहा कि धार्मिक भावनाओं के साथ ही कोरोना वैश्विक महामारी से बचाव के लिए प्रशासन हर परिस्थिति पर नजर रखे हुए है। मंदिर प्रवेश द्वार से लेकर निकास द्वार तक परिसर में श्रद्धालुओं की उचित शारीरिक दूरी बनाई जा रही है और माता के दर्शन व्यवस्थित ढंग से करवाए जा रहे हैं।
एसडीएम रविंद्र कुमार व एएसपी विक्रांत भूषण द्वारा निरंतर दिनभर मंदिर परिसर का निरीक्षण करते हुए श्रद्धालुओं से अपील की है कि वे मंदिर में माता के दर्शन करने के लिए आएं हैं तो प्रशासन की ओर से निर्धारित नियमों की पालना अवश्य करें। उन्होंने कहा कि प्रशासन श्रद्धालुओं के सहयोग स्वरूप हर कदम पर उनके साथ है, ऐसे में वे भी कोरोना से बचाव में प्रशासन के सहयोगी बनते हुए कोरोना से दूरी बनाए रखने में अपना योगदान दें। उन्होंने पुलिस टीम सहित भारत स्काऊट गाइड के कैडेट्स तथा रेडक्रास सोसायटी के स्वयंसेवकों द्वारा भी पूरे अनुशासनात्मक ढंग से दिए जा रहे सहयोग पर उन्हें प्रोत्साहित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *