साइबर सिटी में कोरोना का कहर जारी, कोरोना मामलों में हरियाणा में पहले नंबर पर आया गुरुग्राम

गुरुग्राम : गुरुग्राम में कोरोना संक्रमण की रफ़्तार थमने का नाम नहीं ले रही है तथा संक्रमण की दर 7.8 फीसदी पर पहुंच गई है। हरियाणा के आज के कुल केस 900 से अधिक में से 250 से अधिक गुरुग्राम में ही है । यहाँ प्रति लाख लोगों पर 1500 से ज्यादा संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। जिले में रोजाना मिलने वाले संक्रमित मरीजों की संख्या औसतन 250 है। गुरुग्राम प्रदेश के संक्रमित जिलों की सूची में सर्वाधिक मरीजों के साथ पहले स्थान पर है।
जिले में कोरोना का पहला मरीज 12 मार्च को मिला था। शुरूआत में रोजाना औसतन तीन से चार मरीज मिल रहे थे। संक्रमण के मामले में सितंबर का महीना सबसे खराब रहा। बीते सात महीनों में सर्वाधिक संक्रमित मरीज सितंबर महीने में ही मिले। सितंबर में 8876 संक्रमित मरीजों की स्वास्थ्य विभाग ने पहचान की थी। सितंबर के बाद सर्वाधिक मरीज जून और अक्तूबर में मिले। जून में 4716 संक्रमित मरीज मिले थे, तो वहीं अक्तूबर में अभी तक 4362 संक्रमित मरीज मिल चुके हैं।
बीते सात महीनों में अभी तक तीन लाख से ज्यादा नमूनों की जांच की जा चुकी है। इनमें से 285953 नमूनों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। जबकि 25389 नमूनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। सरकारी लैब से 1411 नमूनों की जांच रिपोर्ट आना अभी बाकी है। जांच के आंकड़ों के अनुसार हर 12 नमूनों की जांच में एक की रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही है। जांच एंटीजन और आरटीपीसीआर दोनों प्रक्रिया से की जा रही है। एंटीजन टेस्ट में पॉजिटिविटी दर 2.8 फीसदी और आरटीपीआर टेस्ट में पॉजिटिविटी दर 10.7 फीसदी है। प्रतिदिन तीन हजार नमूने जांच के लिए एकत्रित किए जाते हैं।
कोरोना संक्रमण से पीड़ित हर 134वें मरीज की मौत हो रही है। जिले में मृतकों की संख्या 190 है। मरने वालों में 138 संक्रमित मरीज पहले से मधुमेह, हाइपरटेंशन, उच्च रक्तचाप, ह्दय रोग, किडनी व लिवर रोग की बीमारियों से ग्रस्त थे। जबकि केवल 52 मृतक कोरोना संक्रमण के अलावा किसी अन्य रोग से पीड़ित नहीं थे। जिले में मरने वाले सर्वाधिक संक्रमित मरीज 60 वर्ष आयु से अधिक के थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *