सड़क निर्माण में झोल : मुख्यमंत्री के नाम नायब तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन !

फर्रुखनगर (नरेश शर्मा) : खंड के गांव खेडा झांझरौला, मुबारिकपुर से बाड़सा जिला झज्जर स्थित एम्स के बीच करीब दो वर्ष पहले बनाई गई सड़क की जर्जर अवस्था की जांच व दोषियों के खिलाफ कार्रवाई कराने की मांग को लेकर क्षेत्रवासियों ने आत्म शुद्धी आश्रम के श्री महंत सच्चिदानंद जी महाराज के नेतृत्व में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर के नाम नायब तहसीलदार रणसिंह गौदारा को ज्ञापन सौंपा।
मुख्यमंत्री के नाम दिए ज्ञापन में नगर पालिका पार्षद कप्तान सिंह शर्मा, महाबीर जाटव, स्वामी सच्च्दानंद जी महाराज, प्रदीप यादव, सुमित यादव, विकास यादव, लक्ष्मी नारायण, रमेश राव, धर्मबीर सिंह आदि ने बताया कि दो वर्ष पहले हमारे गांव खेडा झांझरौला, मुबारिकपुर से बाढ़सा एम्स जिला झज्जर भवन तक मार्केटिंग बोर्ड द्वारा करीब चार किलो मीटर लम्बी और करीब 12 फूट चोडी तारकोल की सड़क का निर्माण किया था। लेकिन ठेकेदार ने सम्बंधित विभाग के अधिकारियों की मिली भक्त करके सड़क निर्माण में नियमों को ताक पर रखकर घटिया सामग्री का प्रयोग किया। जिसके परिणाम स्वरुप सड़क तय समय सीमा से पहले ही पूरी तरह से जर्जर हो गई। रोडियां उखड कर खडडों में तबदील हो गई है। जिसके चलते स्थानीय ही नहीं आमजन जो इस सड़क से गुजरते उन्हे भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सरकार द्वारा ग्रामीणों और एम्स में उपचार के लिए आने वाले रोगियों की सुविधा के लिए यह सड़क निर्माण कराया गया था। लेकिन यह सड़क जर्जर होने के कारण परेशानी का सबब बन गई है। उन्होंने मुख्यमंत्री से सडक निर्माण में बरती गई खामियों की जांच करके दोषियों के खिलाफ उचित कार्रवाई करने तथा सड़क का पुन: निर्माण कराने की मांग की है।