सरकार को लिखित आश्वासन देने में कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए : अजय चौटाला

नई दिल्ली : हरियाणा सरकार में भाजपा गठबंधन का हिस्सा जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) ने मंगलवार को कहा कि केन्द्र को प्रदर्शन कर रहे किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर लिखित आश्वासन देने में कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए। तीन नए कृषि कानूनों को लेकर किसान संगठनों और केन्द्र के बीच जारी बातचीत के दौरान पार्टी का यह बयान आया है।
जेजेपी प्रमुख एवं पूर्व सांसद अजय सिंह चौटाला ने कहा कि जब केन्द्रीय कृषि मंत्री और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार कह रहे हैं कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) जारी रहेगा, तो कानून में उस एक लाइन लिखने में क्या दिक्कत है। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि इस बात का जल्द से जल्द कोई समाधान निकले। हमने सरकार में शामिल लोगों से किसानों की समस्या का समाधान ढूंढने को कहा है।
कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सोमवार को कोविड-19 और ठंड का हवाला देते हुए किसान संगठनों के नेताओं को तीन दिसंबर के बजाय मंगलवार को ही बातचीत के लिए बुलाया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *