निकिता हत्याकांड : पुलिस के पहरे के बीच हुई श्रद्धांजलि सभा

फरीदाबाद : बीकाम आनर्स अंतिम वर्ष की छात्रा निकिता तोमर की श्रद्धांजलि सभा शांतिपूर्ण संपन्न हो गई। तोमर परिवार द्वारा सेक्टर-2 के सामुदायिक भवन में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में प्रदेश के विभिन्न जिलों सहित दिल्ली, राजस्थान व उत्तर प्रदेश से आए लोगों ने निकिता को श्रद्धांजलि दी। एक नवंबर को सर्व समाज पंचायत के दौरान आक्रोशित भीड़ द्वारा बवाल किए जाने से सबक लेकर रविवार को पुलिस खासी मुस्तैद नजर आई और आयोजन स्थल के चारों तरफ नाकाबंदी कर पुलिसकर्मी तैनात किए गए। दंगा रोधी वाहनों के साथ सहायक पुलिस आयुक्त जयवीर राठी के नेतृत्व में विभिन्न थानों की पुलिस मौके पर मौजूद थी। ड्रोन कैमरों से भी सभा स्थल पर लोगों पर नजर रखी गई।
साल 2018 में निकिता के अपहरण का मुकदमा दोबारा शुरू करने की पुलिस की याचिका पर अदालत में सोमवार को सुनवाई होगी। आरोपित तौशीफ ने साल 2018 में भी निकिता का अपहरण कर लिया था। जिस पर सिटी बल्लभगढ़ थाने में मुकदमा दर्ज हुआ था। इस मुकदमे में निकिता के स्वजनों ने अदालत में हलफनामा दे दिया था और मामला खत्म हो गया था। अब स्वनजों ने कहा है कि दबाव देकर उनसे हलफनामा लिया गया। उन्होंने डीसीपी बल्लभगढ़ से यह मुकदमा नए सिरे से जांच करने की मांग की। मुकदमे की दोबारा जांच के लिए अदालत से मंजूरी जरूरी है। इसलिए पुलिस ने अदालत में याचिका लगाई थी, जिस पर सोमवार को सुनवाई होगी। अगर अदालत जांच की मंजूरी दे देती है तो तत्कालीन जिम्मेदार अधिकारियों की भूमिका की भी जांच होगी। जांच पूरी होने पर सप्लीमेंट्री चार्जशीट अदालत में पेश की जाएगी।
परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा, विधायक नीरज शर्मा, करणी सेना के अध्यक्ष सूरजपाल अम्मू, पूर्व मुख्य संसदीय सचिव शारदा राठौर, पार्षद दीपक चौधरी, विभिन्न दलों से जुड़े नेताओं में बलजीत कौशिक, किशन ठाकुर, राजाराम ठाकुर, क्षत्रिय महासभा से प्रकाश सिंह भाटी ने निकिता को श्रद्धांजलि दी और शोक संतप्त निकिता के पिता मूलचंद तोमर, मां विजयवती, भाई नवीन, मामा एदल सिंह रावत, हाकिम सिह को ढांढस बंधाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *