गुस्से में किसान, अनाज मंडी के दोनों गेटों पर जड़ दिए ताले

नरवाना : यहाँ की नई अनाज में धान की खरीद का कार्य सुचारु न होने से गुस्साये किसानों ने मंगलवार को नई अनाज मंडी के दोनों गेटों पर ताला जड़ दिया और सरकार व प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। मुख्य मंत्री, उप मुख्यमंत्री तथा नरवाना के जजपा विधायक की तस्वीरों वाले पोस्टर फूंक कर रोष जताया। प्रदर्शन कर रहे किसानों ने कहा कि वे पिछले 10 दिनों से मंडी में अपनी धान बेचने के लिए डटे हुए हैं, लेकिन अभी तक उनकी धान नहीं बिक सकी। सरकारी खरीद एजेंसी के कर्मचारी धान की खरीद में कछुआ चाल से अपना काम कर रहे हैं, जिस कारण धान की कुछ गिनी-चुनी ढेरियों की ही खरीद हो पाती है।
ताला लगने की सूचना मिलते ही तहसीलदार शिवचरण तथा शहर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर किसानों को समझाने व ताले खुलवाने का प्रयास किया, लेकिन किसानों ने ताले खोलने से इंकार कर दिया और कहा कि मंडी गेट का ताला तभी खुलेगा जब मंडी में दो तरफ से खरीद का कार्य शुरू होगा। किसानों का आरोप है कि मंडी में किसानों को इसलिए तंग किया जा रहा है ताकि वे अपनी धान को ओने-पौने दामों में बेचकर चलते बनें। निजी मिलर उनकी धान 1700 से 1800 रुपये प्रति क्विंटल के भाव से खरीद कर मोटा मुनाफा कमा रहे हैं और मार्केट कमेटी व खरीद एजेंसियों के अधिकारी भी इन लोगों के साथ मिले हुए हैं। किसानों ने कहा कि अगर मंडी में इसी प्रकार के हालात रहे तो किसान सरकार के खिलाफ आंदोलन करने से पीछे नहीं हटेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *