नींद से जागे गुरुग्राम के कलाकार, उत्तर क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र की शाखा हरियाणा में खुलवाने की मांग !

-कला परिषद के निदेशक संजय भसीन को सौंपा ज्ञापन
गुरुग्राम : गुरुग्राम में कला और संस्कृति की अनदेखी से नींद में सोये रंगकर्मी, कलाकार एक बार फिर जाग गए है| गुरुग्राम मंडल के लोक कलाकारों ने हरियाणा कला परिषद के निदेशक संजय भसीन को ज्ञापन सौंपकर मांग की है कि उत्तर क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र की शाखा हरियाणा में खुलवाई जाए। इन कलाकारों ने निदेशक से आग्रह किया है कि वह इस संबंध में प्रदेश के मुख्यमंत्री से भी बात करें।
काफी समय बाद सक्रिय हुए कलाकारों का कहना है कि उत्तर क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र द्वारा पंजाब के लोक कलाकारों को हरियाणा के लोक कलाकारों की अपेक्षा अधिक महत्व दिया जाता है। सांस्कृतिक केंद्र के सभी राज्यों में एक-एक सब सेंटर भी खोले जाने चाहिए, ताकि कलाकारों को अपने-अपने राज्य के कार्यालय में काम मिल सके।
पिछले काफी वर्षों से कला और कलाकार को जीवंत रखने के लिए प्रयासरत वरिष्ठ रंगकर्मी एवं हरियाणा कला परिषद के निदेशक संजय भसीन ने कलाकारों को आश्वस्त करते हुए कहा कि
मुख्यमंत्री के निर्देश पर पूरे प्रदेश के लोक कलाकारों की जिलेवार सूचियां तैयार हो रही हैं। इसके बाद ही कलाकारों के कल्याण के लिए कोई ठोस नीति तैयार की जाएगी। ज्ञापन देने वालों में गुरुग्राम के कलाकार संजय वशिष्ठ,गोल्डी सिंगला, अर्पित भसीन, रमेश कालरा, रोजी, हरजीत सिंह, रजनीश भनोट, अजय वशिष्ठ आदि शामिल रहे। बहरहाल, कलाकारों ने अपना दुखड़ा तो सही जगह जाकर रोया है लेकिन इस आगाज़ का अंजाम क्या और कैसा होगा ये तो आने वाला वक़्त ही बताएगा, तब तक के लिए महज इंतज़ार ही करना है |