बहन की ससुराल में भाई ने मचाया आतंक, मारपीट, तोड़फोड़ के बाद आग के हवाले किया घर !

फर्रुखनगर (नरेश शर्मा) : खंड के गांव फाजिलपुर बादली में बहन के साथ चल रही अनबन और तलाक के केस से असंतुष्ट भाई व उसके दोस्तों ने बहन की ससुराल पहुंचकर जमकर तोडफोड की और घर को आग के हवाले कर दिया। बहनोई और सास की जमकर धुनाई की और हथोडे से वार किया। सीसीटीवी कैमरों को तोड कर डीवीडी लेकर फरार हो गए। अचानक घर पर हुए हमले में घायल हुई महिला की हालत चिंताजन बनी हुई है। जो गुरुग्राम के अस्पताल में भर्ती बताई जा रही है।
इतना ही नहीं हमलवरों ने प्लाट में बंधी गाय के माथे पर भी हतौडे से वार करके लहुलुहान कर दिया। पुलिस ने पिडिता के पुत्र के बायान पर मामला दर्ज करके जांच शुरु कर दी है। समाचार लिखे जाने तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई थी। मामले की जांच कर रहे सहायक उप निरीक्षक सत्यवान का कहना है कि उन्होंने मौके की जांच के बाद मामला दर्ज करके आरोपियों की तलाश शुरु कर दी है। जल्द ही घटना को अंजाम देने वाले लोगों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
पुलिस को दिए बयान में आशीष पुत्र बलराम यादव निवासी फाजिलपुर बादली ने बताया कि उसकी शादी करीब दो साल पहले भारती पुत्री रामकिशोर निवासी बाघनकी के साथ हिन्दू रिति रिवाज से हुई थी शादी के बाद से दोनों के बीच आपसी घरेलु मामलों को लेकर अनबन रहती है। शुक्रवार को भी दोनों के बीच अनबन हो गई थी और उसकी पत्नी शुक्रवार को ही समय करीब सुबह 11:00 बजे अपने भाई पुनीत के साथ अपने मायके में चली गई थी। उसके बाद समय करीब सांय करीब 4:30 बजे उसका साला पुनित पुत्र रामकिशोर व उसका साथी अमीत उसके प्लाट व मकान पर आए और उन दोनों ने प्लाट के मकान में रखे कपडों व जिनमें चदर, गदेला, कम्बल आदि व फोल्डिंग चारपाई में आग लगा दि और घर में रखे घरेलु सामान गैस चुल्हा सीसीटीवी कैमरा एलसीडी आदि तोड फोड दी और डीवीआर को अपने साथ ले गए इतना ही नहीं प्लाट में बंधी हुई गाय के माथे पर भी उन्होंने हथौडे से वार करके गाय को लहुलुहान करके घायल कर दिया। प्लाट में तोडफोड के बाद घर के अन्दर गए और उसकी माँ हरकौर के हाथ में हथौडा से चोट मारी जो वह हथौडा अपने साथ लेकर आए थे और फिर उन्होंने उसी हथौडे से घर का शिशा तोड दिया उसी समय उनके दो अन्य साथी नरेन्द्र गांव ताजनगर व दुसरे को वह नहीं जानता उन्होंने भी उसके और माँ के साथ थप्पड मुक्कों से मार पिटाई की तो फिर वहां जाने लगे और जाते समय उन्होंने कहा की आज तो तुम बच गए दोबारा तुम्हें जान से मार देंगे और जाते समय वो अपने साथ लाए हुए हथौडे को मौके पर ही छोडकर चले गए ।