सरकार क्यों नहीं बना रही एमएसपी पर क़ानून : चौधरी संतोख सिंह

गुरुग्राम : किसानों की माँगो के समर्थन में अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे संयुक्त किसान मोर्चा गुरुग्राम के अध्यक्ष चौधरी संतोख सिंह ने बताया कि किसान आंदोलन के 111वें दिन किसान,मज़दूर तथा गुरुग्राम के विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रमुख व्यक्ति धरने पर बैठे।
उन्होंने कहा कि सरकार ने एमएसपी पर क़ानून बनाने का वायदा किया था।सरकार कहती है की एमएसपी था, एमएसपी है,और एमएसपी रहेगा तो फिर सरकार एमएसपी पर क़ानून क्यों नहीं बना रही है। उन्होंने कहा कि तीनों कानूनों में एमएसपी के बारे में कुछ भी नहीं लिखा है। उन्होंने कहा कि सरकार एमएसपी के बारे में किसानों और जनता को झूठ बोलकर गुमराह कर रही है। उन्होने कहा कि अब किसान बहकावे में आने वाले नहीं है।उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार एमएसपी पर ख़रीद का गारंटी का क़ानून बनाएँ ताकि देश के प्रत्येक किसान को अपनी फ़सल का उचित मूल्य मिल सके।
उन्होंने कहा कि जब तक सरकार एमएसपी पर ख़रीद की गारंटी का क़ानून नहीं बना देती तब तक आंदोलन जारी रहेगा। आज धरने पर बैठने वालों में डॉक्टर सारिका वर्मा, धर्मबीर परवाल,सोमबीर सिंह दौलताबाद,सतीश कुमार कादीपुर,डाक्टर धर्मवीर राठी,योगेश्वर दहिया,जयप्रकाश रेहडू,अनिल पंवार,नवनीत रोजखेडा,कमांडेंट सत्यवीर धोंचक,इन्द्रजीत सिंह,विजय यादव,पंजाब सिंह, फूल कुमार, रमेश दलाल,मनोज झाड़सा,अरुण शर्मा एडवोकेट,तेज राम यादव,मनीष मक्कड़,हरि सिंह चौहान,तनवीर अहमद,योगेन्द्र सिंह समसपुर,विजय लाकड़ा,महासिंह ठकरान,आर सी हुड्डा, दयानंद शर्मा,योगेश कुमार, सतवीर गुर्जर,मुकेश यादव,आकाश यादव, संजय कुमार,ईश्वर, सुरेन्द्रसिंह,दीनबंधु दत्ता,देशराज सिंह,तथा अन्य व्यक्ति शामिल हुए।