जनता मांगे उप मंडल फर्रुखनगर : पूरी हो सकती है वर्षो पुरानी मुराद !

फर्रुखनगर (नरेश शर्मा) : उप मंडल की मुहिम इलाके की तस्वीर बदलने में कितनी कारगर साबित होती है यह बात तो भविष्य के गर्भ में छिपी है। लेकिन इलाके के सांसद एवं केंद्रीय राज्य राव इंद्रजीत सिंह द्वारा की जा रही जोरदार पेरवी से इलाके की जनता में पूरा उत्साह का संचार हो गया है। इलाके के लोगों को पूरी उम्मीद हो गई है कि उनके द्वारा चुने गए जनप्रतिनिधि विधायक राकेश दौलताबाद और विधायक सत्यप्रकाश जरावता भी इलाके की वर्षों पुरानी मांग को सिरे चढ़ाने में कोई कोर कसर नहीं छोडेंगे। विधानसभा के बजट सत्र में वह भी मांग रखेंगे तो इलाके की वर्षो पुरानी मुराद पूरी हो सकती है।
पूर्व पार्षद जय भगवान सैनी, सुनील यादव, राजेश यादव, होशियार सैनी, मनोज सैनी, निखिल जैन आदि का कहना है कि फर्रुखनगर इलाका अपनी प्राचीन भव्यता के कारण पूरे देश में प्रसिद्ध है। देश की आजादी की जंग यहां के रणबाकुरों ने जिस वीरता का परिचय दिया वह भी किसी नहीं छिपा है। यह के किसान, जवान, श्रमिकों द्वारा इलाके के उत्थान के लिए अथक प्रयास किए जा रहे है। लेकिन राजनीति में मजबूत पकड नहीं होने के कारण इलाके को जो मान सम्मान मिलना चाहिए था। वह उससे वंचित रहा है। बावजूद इसके भी इलाके ने अपनी पहचान को धूमिल नहीं होने दिया। जो अपने आप में बडी बात है।
फर्रुखनगर क्षेत्र के साथ जिला झज्जर की जमीन को रिलाइंस कम्पनी द्वारा खरीदने से यह इलाका उन्नति की डगर पर चढ़ने को आतुर है। लेकिन इसकी सफलता के बीच में इसका हौदा आढे आ रहा है। हर कोई उदयोगपति अपना कारखाना स्थापित करते समय इलाके के दर्जे पर नजर जरुर दौडाता है। अगर फरुर्खनगर को उप मंडल का दर्जा मिल जाता है तो इस इलाके के विकास को पंख लग जाएंगे। यहा के युवाओं को लगने वाले स्थानीय उद्योगों में 75 प्रतिशत रोजगार मिलेगा और लोगों को छोटे बडे कार्यों के लिए दर दर नहीं भटकना पडेगा और एक ही छत के नीचे उन्हे न्याय मिल सकेगा। उप मंडल वक्त की मांग नहीं जरुरत बन गई है। सरकार को भी इलाके की वर्षो पुरानी मांग पर स्वीकृति की मोहर लगा देनी चाहिए।